Thursday, August 28, 2014

मुख्यमंत्री जी द्वारा लोकार्पण : सशक्तीकरण : लेखक : अरविन्द पाण्डेय

पुस्तक का नाम '' सशक्तीकरण '' : लेखक : अरविन्द पाण्डेय !!

बिहार के माननीय मुख्यमंत्री श्री जीतनराम मांझी जी द्वारा 23 अगस्त 2014 को संवाद भवन, पटना में '' सशक्तीकरण '' का लोकार्पण किया गया.................
...................अनेक वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की उपस्थिति में बिहार के आदरणीय पुलिस महानिदेशक और समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव श्री अमरजीत सिन्हा, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग के सचिव श्री हुकुम सिंह मीणा द्वारा भी अपने विचार व्यक्त किये गए.......
......................... यह पुस्तक मानव-व्यापार निरोध, अत्याचार निवारण और निरोध, किशोर न्याय और स्त्री के विरुद्ध अपराध के विभिन्न पक्षों पर विधिक हस्तक्षेप की प्रविधियां प्रस्तुत करती है..........इसे बिहार के सभी पुलिस अधिकारियों को निःशुल्क 
उपलब्ध कराया जाएगा ..................



-- Arvind Pandey 

Saturday, April 12, 2014

पुलिस का नया प्रयोग - सशक्तीकरण सभा



पुलिस का नया प्रयोग - सशक्तीकरण सभा :
आज इस सभा का आयोजन अब पुलिस का एक आन्दोलन बन चुका है....... दरभंगा प्रक्षेत्र के दस जिलों में सभी महिला थानाध्यक्षों द्वारा महाविद्यालयों में जाकर यह सभा आयोजित की जा रही है जिसमें '' छात्राओं को आत्म-सुरक्षा के प्रति स्व-संवेदनशील '' बनाने के लिए संवाद किया जाता है...... आई जी,कमजोर वर्ग के रूप में मैंने महिला थानाध्यक्षों के नेतृत्त्व में यह सभा बिहार के सभी जिलों में महिला महाविद्यालयों - कन्या विद्यालयों में आयोजित किये जाने का निर्देश दिया था .........................जो अब दरभंगा प्रक्षेत्र में एक आन्दोलन बन चुका है............
..


..............छात्राओं का आत्म-विश्वास बढ़ रहा है और उनमें एक सशक्त महिला बनाने के बीज का अंकुरण देखा जा रहा है ...



Sunday, March 2, 2014

पुलिस वर्दी पर हिन्दी+उर्दू में नाम-पट्टिका अनिवार्य की गयी




रांची में वर्ष 1990 से प्रशिक्षु ए एस पी के समय से ही मैंने वर्दी पर नाम-पट्टिका -- हिन्दी अर्थात देवनागरी और उर्दू अर्थात अरबी लिपि में ही बनाकर धारण किया और आज भी वही नामपट्टिका मेरी वर्दी का अंग है....
.... और मैंने अपने अधीनस्थों को ऐसा करने का निर्देश दिया और उसे क्रियान्वित किया....
कारण - बस इतना कि राजभाषा अधिनियम का पालन हो...
.............. बिहार में हिन्दी और उर्दू राज भाषाएँ हैं..... 
........... अतः सारे प्रशासनिक कार्य और नाम-पट्टिकाएं इन्हीं दोनों भाषाओं में होनी चाहिए....
......... दरभंगा प्रक्षेत्र के दस जिलों में सभी पुलिस कर्मी और अधिकारी ऐसी नाम-पट्टिकाएं बना बना कर धारण कर रहे हैं.....
............ उर्दू में नाम-पट्टिका बनाने वाले लोगो की संख्या अत्यल्प होने के कारण अभी गति धीमी है किन्तु हम जल्दी ही शत-प्रतिशत का लक्ष्य प्राप्त कर लेगें...



Thursday, February 27, 2014

Anti Litigation Movement in Darbhanga Zone, Bihar

आज महाशिवरात्रि  है.... सदाशिव और जगन्माता पार्वती के सनातन परिणय का दिवस.....
शिव की आराधना का प्रारम्भ-पर्व..... 
शिव की आराधना का अर्थ क्या है ???  अर्थ है - शिवत्व अर्थात कल्याण के निकट रहना ,, अर्थात कल्याण-मय हो जाना.... अर्थात कल्याण का वितरण करना ..... अर्थात कल्याण करने में सदा तत्पर होना............ आज के परिवेश में कल्याण में तत्पर होने का अर्थ है -- दो विरोध-ग्रस्त लोगों के बीच शान्ति की स्थापना करना......... उन्हें शान्ति-पूर्ण सह अस्तित्व के साथ सह-जीवन-यापन के लिए प्रेरित और तैयार करना......... यह कार्य मुकदमा विरोधी अभियान चलाकर किया जा सकता है... दरभंगा प्रक्षेत्र के दस जिलों में परामर्श-सभा के माध्यम से यह कल्याण-कार्यक्रम सफ़लता-पूर्वक चलाया जा रहा है....

अरविंद पाण्डेय
------------------------------
नीचे प्रस्तुत पर्णिका का वितरण प्रारम्भ किया जा रहा है जिससे आम लोगों तक यह बात पहुचें कि मुकदमेबाजी से दोनों पक्षों को हानि  होती है.....


Wednesday, February 26, 2014

लोग मुकदमेबाजी से बचना चाहते हैं ...



..... बिहार के मधेपुरा जिले में रतवारा थानाध्यक्ष द्वारा सफल परामर्श सभा का आयोजन कराते हुए दो पक्षों के बीच समझौता कराया गया जिसमें दोनों पक्षों के बीच वर्षों से चला आ रहा ज़मीन-विवाद समाप्त हो गया और दोनों ने '' केस मुकदमा नहीं करेगें, भाई भाई साथ रहेगें '' का नारा लगाया...................


..................आम लोगों को मुकदमेबाजी से बचाने के लिए दरभंगा प्रक्षेत्र के सभी जिलो में परामर्श सभा का आयोजन कर वर्षों से लंबित भूमि विवाद का निपटारा किया जा रहा है और साथ ही आम जनता को इससे होने वाले हानी और लाभ के बारे में भी बताया जा रहा है। यह समाचार कतरन बता रही है कि आम जनता जागरूक हो रही है..............






-- अरविन्द पाण्डेय

Friday, February 21, 2014

'केस मुकदमा नहीं करेंगें , भाई भाई साथ रहेंगें


जो कहना , वही करना ..




इस समाचार को देखिएगा और जहां भी गैर-ज़रूरी मुकदमें में उलझ कर तड़पते हुए लोग दिखाई पड़ें उन्हें परामर्श देना है ---------

''केस मुकदमा नहीं करेंगें , भाई भाई साथ रहेंगें ..''

Sunday, February 16, 2014

...... जो लेगा वो जाएगा ---

दरभंगा प्रक्षेत्र का एक ज़िला मधुबनी - मधुबनी का एक थाना खुटौना - खुटौना के थानाध्यक्ष को बिहार के निगरानी विभाग के पुलिस -दल ने एक लाख रुपये रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया .....
...... जो लेगा वो जाएगा --------- अगर शिकायत-कर्ता हमारे पास आयेगा.........
................... नीचे की समाचार-कतरन देखें......